थाइलैंड की गुफा में फंसे बच्चों को बचाने के लिए पनडुब्बी का सहारा

83
views

थाईलैंड की गुफा में दुनिया का सबसे बड़ा रैस्क्यू चलाया जा रहा है. टेस्ला और स्पेस एक्स के सीईओ एलन मस्क ने थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों को बचाने के लिए एक ‘किड-साइज सबमरीन’ बनाई है, जिसका वीडियो उन्होंने सोमवार को अपने ट्वीटर अकाउंट पर भी शेयर किया है। दावा किया गया है कि छोटे साइज में इस सबमरीन से आसानी से बच्चों को बाहर निकाला जा सकता है। साइज में छोटी होने की वजह से इसे गुफा के अंदर भेजने में भी आसानी रहेगी।

दरअसल, 23 जून को थाईलैंड की थाम लुआंग गुफा में 12 बच्चे और कोच फंस गए थे। जिसके बाद से 9 दिनों तक चले तलाश अभियान के बाद इन बच्चों के गुफा में फंसे होने की बात पता चली। पिछले 6 दिनों से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है और अभी 4 बच्चे बाहर निकाले जा चुके हैं, जबकि 8 बच्चे और कोच अभी भी गुफा में फंसे हैं।

8 घंटे में बनाई जा सकेगी छोटी सबमरीन
एलन मस्क ने रविवार को ट्विटर पर किड-साइज सबमरीन का वीडियो शेयर किया गया। इस वीडियो में उन्होंने बताया कि ये सबमरीन किस तरह से काम करेगी। ये सबमरीन फॉल्कन रॉकेट के लिक्विड ऑक्सीजन ट्रांसफर ट्यूब के जरिए चलेगी। मस्क ने बताया कि इसका वजन काफी हल्का होगा और 2 डायवर्स इसे आसानी से ले जा सकते हैं।
– उन्होंने बताया कि इस सबमरीन में 8 हिच पॉइंट्स होंगे, जिनमें से 4 आगे और 4 पीछे होंगे। इसके साथ ही लीकेज से बचाने के लिए इसमें 4 एयर टैंक भी दिए गए हैं।
– एलन मस्क ने ये भी बताया कि इस छोटी सबमरीन को 8 घंटों में ही तैयार किया जा सकता है और फ्लाइट के जरिए इसे अमेरिका से थाईलैंड पहुंचने में 17 घंटे का समय लगेगा।

कैसे काम करेगी ये सबमरीन?
– एलन मस्क के ट्विटर अकाउंट पर शेयर किए इस वीडियो में सबमरीन के काम करने का तरीका भी दिखाया गया है। इस सबमरीन का साइज काफी छोटा है, जिसकी लंबाई करीब 5 फीट के आसपास है।
– इसके एक साइड में ऑक्सीजन सिलेंडर लगे हैं, जिसका पाइप सबमरीन के ऊपरी हिस्से से अंदर की तरफ गया है। दूसरी साइज में प्रोपेलर लगा है, जिसकी मदद से ये सबमरीन चलती है।
– इसमें एक छोटा बच्चा आसानी से लेटकर आ सकता है। इसके लिए बच्चे को पीठ के बल अपने हाथों को फोल्ड करके लेटना होता है। अंदर रोशनी के लिए बच्चे के हाथ में 2 टॉर्च भी रहेगी।
वीडियो के मुताबिक, इस सबमरीन के ऊपरी हिस्से में पकड़ने के लिए 4 हैंडल दिए गए हैं और सबमरीन को 2 मिनट से भी कम समय में खोला जा सकता है और बच्चे को बाहर निकाला जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here